हिमाचल बस हादसे में मारे गए बच्चों को समर्पित सुशील कुमार का गोल्ड मेडल

0

नई दिल्ली: भारत को यहां जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में आठवें दिन गुरुवार को कुश्ती प्रतियोगिता में दो स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य पदक हासिल हुआ. भारत के दिग्गज पहलवान सुशील कुमार ने राष्ट्रमंडल खेलों में अपने स्वर्ण पदकों की हैट्रिक पूरी की है. सुशील ने पुरुषों की 74 किलोग्राम वर्ग स्पर्धा में दक्षिण अफ्रीका के जोहानेस बोथा को 10-0 से मात देकर राष्ट्रमंडल खेलों का तीसरा स्वर्ण पदक जीता. इससे पहले, सुशील ने 2010 दिल्ली और 2014 ग्लास्गो में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीते थे. इस जीत के साथ ही उन्होंने अपने पदकों की हैट्रिक पूरी की है.

सुशील ने बोथा को पहले ही मिनट में पूरा पलटते हुए चार अंक लिए और इसके बाद उन्हें नीचे पटकते हुए दो और अंक हासिल कर लिए. भारतीय दिग्गज पहलवान सुशील ने बोथी को संभलने का मौका भी नहीं दिया और और एक बार फिर उन्हें पटकर चार और अंक हासिल किए और स्वर्ण पदक जीता.

सुशील कुमार ने अपना यह गोल्ड मेडल हाल ही में हिमाचल में हादसे का शिकार हुए मृत बच्चों को समर्पित किया है. सुशील कुमार ने ट्वीट करते हुए लिखा- जिंदगी से ज्यादा कीमती कुछ नहीं है. तीसरी बार गोल्ड जीतना गर्व की बात है, लेकिन हिमाचल में हुए हादसे में अपनी जान गंवाने वाले बच्चों को मैं यह मेडल समर्पित करता हूं.

बता दें कि हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में सोमवार (9 अप्रैल) को एक निजी स्कूल की बस के एक खाई में गिरने से 23 स्कूली बच्चों सहित कुल 27 लोगों की मौत हो गई थी. पुलिस अधीक्षक संतोष पटयाल ने कहा कि सभी मृत बच्चों की आयु 10-12 साल के बीच थी. इसके अलावा दुर्घटना में बस चालक और दो महिला शिक्षकों की भी मौत हो गई.

अपनी प्रतिक्रियाएं दे

Loading...